uidai-helpline-number-autosaved-in-my-contacts-issue

फ़ोन के कॉन्टेक्ट्स में UIDAI का मोबाइल नंबर अपने आप सेव हो चूका है | क्या यह सुरक्षित है जानिए

क्या आपके फ़ोन के कॉन्टेक्ट्स में UIDAI का हेल्पलाइन मोबाइल नंबर अपने आप सेव हो चूका है? यदि हाँ, तो इस पोस्ट को जरूर पढ़े यह जान ने के लिए की यह सेफ है की नहीं. अचानक, स्मार्टफोन उपयोगकर्ताओं यह कम्प्लेन कर रहें की उनके Phone Contacts में UIDAI का नंबर खुद ब खुद सेव कैसे हो गया.

स्मार्टफोन उपयोगकर्ताओं के मन में कई सवाल आ रहे हैं जैसे: UIDAI का नंबर ऑटोमेटिकली सेव कैसे हुवा, क्या उनका मोबाइल हैक हो चूका, क्या किसी ने  उनका डेटा लीक कर दिया है इत्यादि. हम इस पोस्ट में यह सब सवालों का जवाब देंगे, इसलिए पूरा जरूर पढ़े.

कौन-सा UIDAI हेल्पलाइन नंबर फ़ोन के कॉन्टैक्ट्स में सेव हुवा है?

यदि आप अपने स्मार्टफोन के कॉन्टैक्ट्स लिस्ट में जाकर UIDAI या 1947 से सर्च करेंगे तो आपको UIDAI के नाम पर एक कांटेक्ट नंबर पहले से सेव मिलेगा. सबसे बड़ी भ्रम की स्थिति तब उत्पन होती है जब आप कांटेक्ट नंबर देखेंगे क्यूंकि जो नंबर UIDAI के नाम पर लोड है वह पुराण हो चूका हैं.

सुरुवात में UIDAI का हेल्पलाइन नंबर 1800 300 1947 था लेकिन अब यह बदल गया है और सिर्फ 1947 हो चूका है. यही भी सबसे बड़ा कारन है की सब डर गए हैं. यह बस एक बग है जो फिक्स नहीं हुवा है अब तक और कुछ नहीं.

मेरे फ़ोन के कॉन्टैक्ट्स में UIDAI Helpline Number खुद ब खुद सेव कैसे हो गया?

2014 में Google ने एक बदलाओ लाया था की भारत में जितने भी Android Smartphones है, उनके फ़ोन के कॉन्टैक्ट्स में UIDAI हेल्पलाइन नंबर और Distress नंबर जो की 112 है अपने आप ऐड कर दिया जायेगा. यही कारन है की इंडिया के हर एक एंड्राइड स्मार्टफोन्स में आपको यह दोनों कांटेक्ट पहले से हीं सेव मिलेंगे.यह बात खुद गूगल के एक वरिष्ठ कर्मचारी ने कहा था.

ऑफिसियल स्टेटमेंट: हमारी आंतरिक समीक्षा से पता चला है कि 2014 में, तत्कालीन यूआईडीएआई हेल्पलाइन नंबर और 112 संकट हेल्पलाइन नंबर अनजाने में भारत में उपयोग के लिए OEMs को दिए गए एंड्रॉइड रिलीज़ के सेटअप विज़ार्ड में कोडित थे और तब से वहीं बने हुए हैं. हम इसे सेटअप विज़ार्ड की आगामी रिलीज में ठीक करने की दिशा में काम करेंगे जो अगले कुछ हफ्तों में OEMs को उपलब्ध कराया जाएगा.

क्या आपका मोबाइल फ़ोन हैक हो चूका है या डेटा लीक हुवा है?

ऐसा कुच्छ भी नहीं हुवा है, आपका स्मार्टफोन पूरी तरह से सेफ है. किसी भी प्रकार का हैकिंग या डेटा लीक नहीं हुवा है. आप एक डैम निश्चित रहे की आपका फ़ोन पूरी तरह से सुरछित है. UIDAI का हेल्पलाइन नंबर अपने आप फ़ोन में पहले से होने का कारन मैंने अच्छि तरह से समझाया है. इसका मुख्य करा जान ने के लिए ऊपर पढ़ ले.

UIDAI का नंबर अपने आप सेव होना बस एक बग था गूगल के द्वारा किया गया है 2014 में. फिलहाल, यह इशू अभी तक फिक्स नहीं हुवा है जिसके फलस्वरूप आपको अभी भी कांटेक्ट लिस्ट में UIDAI Helpline Number जो की पुराण है अभी भी मिलेगा.

यह सब भी जरूर पढ़े:

Leave a Reply